प्रॉपर्टी खरीदते वक्‍त रखें 10 बातों का खास ध्‍यान, पुलि‍स ने जारी की लिस्‍ट

0

case,

    प्रॉपर्टी की खरीद में दस्‍तावेज काफी अहम होते हैं। आए दि‍न इस तरह के मामले सामने आते हैं जि‍नमें प्रॉपर्टी की खरीद फरोख्‍त में धोखाधड़ी हो जाती है। आमतौर पर लोग पूरी जिंदगी की गाढ़ी कमाई घर, प्‍लॉट या दुकान खरीदने में लगा देते हैं। ऐसे में अगर उनके साथ धोखा हो जाए फि‍र वह कहीं के नहीं रह जाते।

     इन सब बातों को ध्‍यान में रखते हुए दि‍ल्‍ली पुलि‍स ने एक एडवाइजरी की है। ऐसा नहीं है कि यह हि‍दायतें केवल दि‍ल्‍ली में रहने वाले लोगों के ही काम की हैं। यह सबके काम की हैं। इसमें बताया कि‍ कि‍सी भी तरह की प्रॉपर्टी खरीदते वक्‍त आपको कि‍न 10 बातों का खास ध्‍यान रखना चाहि‍ए।

1  जमीन के मालि‍क या एजेंसी जैसे डीडीए, एल एंड डीओ, नोएडा अथॉरि‍टी, जीडीए वगैरह से प्‍लॉट के स्‍वामि‍त्‍व की जांच करें।

2  नि‍र्माण की वास्‍तवि‍क स्‍थि‍ति जानने के लि‍ए प्रोजेक्‍ट साइट/ भूमि का स्‍वयं नि‍रीक्षण करें।

3  दस्‍तावेजों जैसे भवन निर्माता- खरीदार अनुबंध, सेल डीड, जीपीए, एसपीए, वसीयत आदि सावधानी के साथ पढ़ें।

4  हस्‍ताक्षर करने से पूर्व कानूनी वि‍शेषज्ञ से परामर्श कर लें। गैर पंजीकृत / पूर्व हस्‍ताक्षरि‍त दस्‍तावेजों पर भरोसा ना करें।

5  लाइसेंस/स्‍वीकृत लेआउट या साइट प्‍लान/नक्‍शा और अन्‍य मंजूरी की जांच एवं सत्‍यापन संबंधि‍त सि‍वि‍क एजेंसि‍यों/ टाउन प्‍लानर्स से करा लें।

6  कि‍सी अधि‍ग्रहण कार्यवाही के संबंध में भूमि की स्‍थि‍ति भूमि अधि‍ग्रहण कलेक्‍टर (LAC)से बंधक (Mortgage) हेतु सीईआरएसएआई एक्‍ट की सेंटर रजिस्‍ट्री से या अन्‍य सि‍वि‍ल / आपराधि‍क मुकदमेबाजी की जांच कर लें।

7  खरीदारी केवल रजि‍स्‍टर्ड सेल डील के माध्‍यम से हस्‍ताक्षर के साथ स्‍वामी के अंगूठे/अंगुली की छाप के साथ करें।

8  भुगतान हमेशा स्‍वामी के नाम में चेक/डीडी/आरटीजीएस और अन्‍य बैकिंग प्रपत्रों के माध्‍यम से करें।

9  मूल दस्‍तावेजों के साथ, भूस्‍वामी के हस्‍ताक्षर एवं अंगुल छाप भुगतान के प्रमाण स्‍वरूप प्राप्‍त करें।

10  अंति‍म भुगतान और दस्‍तावेजों के नि‍ष्‍पादन के तुरंत बाद वास्‍तवि‍क कब्‍जा प्राप्‍त करें।

Share :
Share :
source: मनी भास्कर.

Leave A Reply

Share :