कलर और डिजाइन पर सबसे ज्यादा फोकस, लाइट कलर्स और शॉर्ट स्पेस डिजाइंस का क्रेज

0

real_estate_interior_color_design_1896037_766x502-m

     फेस्टिव सीजन में सभी घर से लेकर हर चीज की रंगत बदल देना चाहते हैं। हर कोई चाहता है कि उनके घर की खूबसूरती दूसरों के आशियाने से अलग हो। बदलते दौर के साथ अब घरों की रौनक बढ़ाने के लिए नए ट्रेंड मार्केट में रन कर रहे हैं। कुछ सालों पहले तक सिर्फ डिस्टेम्पर पर फोकस किया जा रहा था, वहीं अब इसकी जगह प्लास्टिक पेंट्स ने ले ली है। खास बात यह है कि अब वॉल को ब्यूटीफुल और अट्रैक्टिव बनाने के लिए लोगों की नजर पेंट्स तक सीमित नहीं है।

      एक्सपट्र्स का कहना है कि अब जहां पेंट्स कार्विंग का के्रज बढ़ा है, वहीं स्टेन सील की डिमांड भी लगातार बढ़ रही है। शहर के रेस्तरां और कैफेज में पेंट कार्विंग को पसंद किया जाता है, जबकि घरों में स्टेन सील को पसंद किया जा रहा है। इसके अलावा रॉयल प्ले और टेक्स्चर की भी पिछले कुछ सालों में काफी डिमांड बढ़ी है। बता दें, स्टेन सील में पेपर और प्लास्टिक शीट पर कलर कर उसे दीवार पर चिपकाया जाता है, जिसके दीवार को डिजाइनर के अनुरूप इम्प्रेशन उभर कर आता है।

फिर डिमांड में वॉलपेपर

latest-wallaper-500x500

      एक्सपट्र्स की मानें तो घरों में डिफरेंट डिजाइंस और शैड्स को प्रमुखता दी जाने लगी है। सिंपल वॉल अब बहुत कम पसंद आ रही है, जो कुछ समय पहले डिमांड में थी। पेंट विक्रेता राहुल गुप्ता ने बताया कि वॉलपेपर दोबारा डिमांड्स में आ गए हैं, वहीं रॉयल प्ले में लाइट्स कलर्स के डिफरेंट टेक्स्चर को पसंद किया जा रहा है। एक्सपट्र्स का कहना है कि पिछले साल २० अरब से भी ज्यादा का बिजनेस हुआ था।

इन कलर्स का क्रेज

(JPEG Image, 284 × 177 pixels)

      इस साल ओशनसाइड, चिनोयसरी रेड, डार्क प्लम, विंडसोर पिंक, सालसा डांसिंग, कोर्टयार्ड ग्रीन, ओवलरूम ब्लू, डीप टक्र्वाइज, ग्रीनरी, ब्लैक शिफॉन, स्टोन व्हाइट, टाइल्ड ट्यूब जैसे कलर्स और डिजाइन को पसंद किया जा रहा है।

पीवीसी में लेदर और वुडन फिनिश

antique-wooden-degin-flooring-i1

     अब घरों में पीवीसी पैनल्स की डिमांड भी बढ़ रही है। इन दिनों लेदर फिनिश और वुड फिनिश सबसे ज्यादा ट्रेंड में हैं। इंटीरियर डिजाइनर संजना तिवारी ने बताया कि पीवीसी रीसेट किया जा सकता है और इसमें सीलन जैसी प्रॉब्लम्स नहीं आती, ऐसे में लोग इसे ज्यादा पसंद करने लगे हैं। पिछले दो साल के मुकाबले इसके मार्केट में ५० परसेंट की ग्रोथ हुई है।

Share :
Share :

About Author

Leave A Reply

Share :