होम लोन पर हो जाएगी 3 लाख तक की बचत, करें ये काम

0

home-loan4_1502540463

       अगर आपने किसी बैंक से होम लोन लिया हुआ है और होम लोन की ईएमआई भारी पड़ रही है, तो आप की थोड़ी सी सावधानी आपके होम लोन में 2 से 3 लाख रुपए तक की बचत करा सकती है। खासकर ऐसे समय में जब आरबीआई रेपो रेट में बदलाव कर बैंकों पर ब्‍याज दर कम करने का दबाव बना रहा है, तो यह नुस्‍खा आपके काफी काम आ सकता है। आज हम आपको बताएंगे कि आप को ऐसा क्‍या करना चाहिए, जिससे कि आप अपने होम लोन में  2 से 3 लाख रुपए तक की बचत कर सकेंगे। यदि होम लोन की राशि अधिक है तो आपकी बचत राशि भी बढ़ जाएगी।

क्‍या है यह रास्‍ता

home-loan_ 1

      दरअसल, अप्रैल 2016 से आरबीआई ने लोन पर ब्‍याज दर फिक्‍स करने के नए फॉर्मूले की शुरुआत की थी। जिसे एमसीएलआर यानी मार्जिनल कॉस्‍ट ऑफ लैंडिंग रेट कहा गया। इसमें बैंकों को आरबीआई के रेपो रेट सहित अन्‍य कॉस्टिंग का आकलन कर लोन पर ब्‍याज दर तय करना होता है। इससे पहले तक लोन बेस रेट के आधार फिक्‍स किया जाता था। । बेस रेट के मुकाबले एमसीएलआर कम है, ऐसे में यदि आपका होम लोन अप्रैल 2016 से पहले का है तो आप अपने लोन को एमसीएलएल पर शिफ्ट कर देते हैं तो आपको 2 से 3 लाख रुपए की बचत हो सकती है।

अगर एसबीआई से लिया है होम लोन तो

home-loan3_2

      अगर आपने स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया से होम लोन लिया है और आप बेस रेट से एमसीएलआर में शिफ्ट करते हैं तो जानिए आपको कितनी बचत होगी।

बेस रेट –

लोन राशि    20 लाख रुपए

समयावधि   20 साल

ब्‍याज दर   9.1 फीसदी

कुल ब्‍याज    2349604 रुपए

कुल देय राशि   4349604 रुपए

एमसीएलआर -

लोन राशि    20 लाख रुपए

समयावधि    20 साल

ब्‍याज दर    8.4 फीसदी

कुल ब्‍याज    2135224 रुपए

कुल देय राशि    4135224 रुपए

कुल बचत – 214380 रुपए

पीएनबी से लिया है लोन तो कितनी होगी बचत

pnb_3

     अगर आपने पंजाब नेशनल बैंक से होम लोन लिया है और बेस रेट से एमसीएलआर में शिफ्ट करते हैं तो जानिए आपको कितनी बचत होगी।

बेस रेट –

लोन राशि    20 लाख रुपए

समयावधि    20 साल

ब्‍याज दर    9.35 फीसदी

कुल ब्‍याज    2427318 रुपए

कुल देय राशि    4427318 रुपए

एमसीएलआर -

लोन राशि    20 लाख रुपए

समयावधि    20 साल

ब्‍याज दर    8.35 फीसदी

कुल ब्‍याज    2120094 रुपए

कुल देय राशि    4120094 रुपए

कुल बचत –  307224रुपए

Share :
Share :

About Author

Leave A Reply

Share :